डेल्टा वैरियंट से ज्यादा खतरनाक है ये नया कोरोना

कोरोना वायरस के डेल्टा वैरिएंट ने से भी कई गुना ज्यादा खतरनाक  लैम्बडा वैरिएंट  ने दुनिया में दस्तक दे दी है और कोई तीन दर्जन देशों में लोगों को चपेट में  ले लिया है।

अच्छी बात अभी तक यह है कि भारत में इसका एक भी मामला सामने नहीं आया है पर  मलेशिया  ने इसे वैरिएंट ऑफ कंसर्न की श्रेणी में डाल दिया है। 

लैम्बडा स्ट्रेन पेरू में सबसे पहले पाया गया था और इसकी पहचान दुनिया में सबसे ज्यादा मृत्युदर देने वाले कोरोना वायरस के तौर पर की गई है। 

ब्रिटेन में भी लैम्बडा वैरिएंट के कुछ मामले सामने आए हैं।   

पेरू में मई और जून के दौरान कोरोना वायरस के दर्ज किए गए कुल मामलों में से 82 प्रतिशत मामलों में लैम्बडा वैरिएंट पाया गया था।

वहीं चिली में मई और जून में दर्ज किए गए कुल मामलों में से 31 प्रतिशत मामलों में लैम्बडा वैरिएंट की पुष्टि हुई है।

डब्ल्यूएचओ ने पहले ही लैम्बडा वैरिएंट को दक्षिण अमेरिका में वैरिएंट ऑफ कंसर्न घोषित कर दिया है।

डब्ल्यूएचओ ने कहा कि लैम्बडा बाकी म्यूटेंट्स से ज्यादा आक्रामक है और एंटीबॉडी पर तेज हमला करता है।