हाईकोर्ट में दावा, सिगरेट पीने से नहीं होता कोरोना

महाराष्ट्र के तंबाकू व्यापारी संघ ने बॉम्बे हाई कोर्ट में अजीबोगरीब दावा किया है कि सिगरेट पीने वालों को कोरोना नहीं होता।

दरअसल इन व्यापारियों ने वकील स्नेहा मरजादा की याचिका पर चल रहे मुकदमे में दखल देने का आवेदन देकर अपनी यह बात रखी है।

इस महिला वकील ने हाईकोर्ट का दरवाजा इस बात के लिए खाकर आया है कि महाराष्ट्र सरकार ने अभी तक सिगरेट पीने से रोकने के लिए पर्याप्त कदम नहीं उठाए हैं जबकि तमाम वैज्ञानिक रिपोर्ट कहती हैं की सिगरेट पीने से कुवैत का खतरा बढ़ जाता है।

आश्चर्यजनक तरीके से व्यापारियों ने इंशोध रिपोर्टों को खारिज करते हुए दावा किया है किस सिगरेट पीने वालों में करुणा का खतरा बहुत कम हो जाता है यह बात व्यवहार से देखी गई है।

मुकदमे पर बहस अभी जारी है पर व्यापारियों की दलील है कि सिगरेट सेजल निकोटीन मिलती है वह कोबिट से लड़ने में मदद करती है।